Thejantarmantar
Latest Hindi news , discuss, debate ,dissent

- Advertisement -

सुशांत की मौत पर बिहारी युवाओं का फूट रहा गुस्सा ,,घेरे में है सलमान सहित मशहूर हस्तियां

पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक मौत दम घुटने से हुआ है लेकिन बिहार के युवाओं में एक अलग ही शोर है ,, वे कहते है मौत दम घुटने से नही बल्कि माफिया गिरी, भाईगिरी, वंशवाद, स्वजन पक्षपात के चक्रव्यूह में फँसकर हुई है

315

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Advertisement -

नई दिल्ली-तमाम भौतिक सुखों से परिपूर्ण ,एक अभिनेता अपने अंतर्मन से लड़ाई हार गया । वो अपने जाने कि वजह भी साथ ले गया क्योंकि गुनहगार का अक्स कमजोर लम्हों में और मजबूत हो गया था । दुसरी ओर पुलिस सुशांत के मौत का सही कारण अब तक नही जान पायी है। घटना स्थल पर कोई सुसाइड नोट भी नही पाया गया ।गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती से पुलिस कि पुछताछ चल रही है। दोस्त , सगे -संबंधी सदमे से अब तक नही उबरे हैं। और साथ ही सदमें में है पूरा बिहार ।

सुशांत बॉलीवुड में लीड रोल करने वाले एक मात्र बिहारी एक्टर थे । जिस पर हर बिहारी गौरवान्वित होता था । जिसे प्रेरणा स्वरूप मानकर बुलंदियां छूते थे आज सुशांत के इतिहास हो जाने से हर कोई हताश है ।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक मौत दम घुटने से हुआ है लेकिन बिहार के युवाओं में एक अलग ही शोर है ,, वे कहते है मौत दम घुटने से नही बल्कि माफिया गिरी, भाईगिरी, वंशवाद, स्वजन पक्षपात के चक्रव्यूह में फँसकर हुई है

जामिया मिल्लिया इस्लामियां में पत्रकारिता के अध्ययनकर्ता मनीष तिवारी कहते है- यह घटना बेहद डरावनी थी, मगर ऐसा नही है कि यह बॉलीवुड के इतिहास में पहली बार हुआ है इससे पूर्व में भी कई कलाकार खुदकुशी कर चुके है । लेकिन खुदकुशी के पीछे का सच शायद ही कभी बाहर आ पाता है। इस बार हम यही चाहते है कि बॉलीवुड के अन्दर हो रहे रहस्यमयी मौतों तक पुलिस कि पहुंच बने ।

युवा पत्रकार अंकित मिश्रा ने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा है …शक तो तब भी हुआ था जब आलिया भट्ट ने सुशांत सिंह राजपूत को पहचानने से इनकार किया था । उन्होने कमाल खान के वायरल हो रहे ट्वीट को लेकर जिक्र किया”- कमाल खान के इस पुराने ट्वीट के सत्यता की जांच होनी चाहिए और यदि यह सही साबित हुआ तो इन लोगों को बैन की सही परिभाषा समझाने की जिम्मेदारी हमारी होगी। जितना हो सके इस पोस्ट को शेयर करिए और बांकि तथ्यों को भी खंगालिए गूगल पर मामले को दबने नहीं देना है। डिप्रेशन के कारकों का पता लगे इसके लिए आम लोगों को मेहनत करनी होगी। #boycottnepotism

- Advertisement -

krkboxoffice
KRKBOXOFFICE tweet

- Advertisement -

सोशल मिडिया पर चर्चा आम है कि सुशांत बीते कई महीनों से बॉलीवुड में अपने वजूद के लिए संघर्ष कर रहे थे । बॉलीवुड के भीतर चल रही गुटबाजी में सुशांत अपने आप को फिट नही कर पाए । जिसके वजह से उन्हे अनेकों तरीके से प्रताड़ित होना पड़ा।
फिल्म निर्माता अभिनव कश्यप अपनी फेसबुक पोस्ट में लिखते है कि सलमान खान और खान परिवारों द्वारा सुशांत द्वारा साइन की गई फिल्मों को एक-एक कर छीना जा रहा था।

फिल्म अभिनेता निर्देशक शेखर कपूर सुशांत के मौत का कारण करीब से जानने का दावा करते है वे कहते है —- ‘तुम जिस दर्द से गुजर रहे थे उसका मुझे एहसास था ।जिन लोगों ने तुम्हें कमजोर बनाया और जिनके कारण तुम मेरे कंधे पर सिर रखकर आंसू बहाते थे, उनकी कहानी मैं जानता हूं। काश पिछले 6 महीने मैं तुम्हारे साथ होता। काश तुमने मुझसे बात की होती. जो कुछ भी हुआ वो किसी और के कर्म थे, तुम्हारे नहीं’।

गुस्सा व्यक्त करने में बिहार और पुर्वांचली क्षेत्र के युवाओं की संख्या अधिक है वे इस बात को बेहतर समझते है,, कि सुशांत उनके लिए कितना महत्वपुर्ण चेहरा था । बिहार में कई संगठनों द्वारा अपना गुस्सा साफ जाहिर कर कह रहे कि मामले की हरेक पहलुओं पर न्यायिक जांच निष्पक्ष रुप से हो।

बिहारी नम्बर 1 नाम का एक चैनल फेसबुक पर मुहिम चला रहे है,वे लोगों से अपील करते है -“एक बात बोलें…मानोगे ? अभी अपनी- अपनी Energy को Boycott करने में बरबाद मत करो मेरे बिहार के शेरों …..अगर सुशांत को सच मे श्रधांजलि देना चाहते हो तो सुशांत की आखिरी फ़िल्म “#दिल_बेचारा” को किसी भी तरह सिनेमाघरों में रिलीज़ करवाओ । करवा सकते हो ?
“Dil Bechara” हॉलीवुड के फ़िल्म “The Fault In Our Stars” का रीमेक है जिसे #FoxStudios ने Produce किया है , A. R. Rahman का Music है और इसके Director है “Mukesh Chhabra” । मुद्दे की बात ये है कि ये फ़िल्म सिनेमाघर की जगह Hotstar पर रिलीज़ होने वाली है।
मेरा बस इतना कहना है कि ये #SushantSinghRajput की आख़िरी फ़िल्म है और इसके बाद हम लोग सुशांत को फिर कभी भी 70MM वाले बड़े रुपहले पर्दे पर नहीं देख पाएंगे । इसलिए एक फैन के हैसियत से आप ख़ुद बताएं कि आप इस फ़िल्म को Hotstar पर देखना चाहते हैं या सिनेमाघरों में ? अगर तुम्हारा जवाब सिनेमाघर है तो बोलो अगला कदम क्या हो ? #DilBecharaOnBigScreen 💪

बॉलीवुड की मौजूदा हालात

फ़िल्मी जगत के अंदर कुछ लोग दबी जुबानों में कह रहे है कि भाई भतीजावाद सुशांत कि मौत की जड़ है तो कुछ खुलकर सामने आ रहे हैं। लेकिन इसके इतिहास में जाकर बात करें तो जो कोई भी एक अदद कलाकारी जानता था वह इस इंडस्ट्री का हिस्सा बनता गया मानों बॉलीवुड में जबरन भर्ती चल रही हो। लेकिन आज जनरेशन बदल गयी है जिन लोगों कि भर्ती आसानी से होती गई वह अपनी जनरेशन को भी आसानी से पहुंचते हुए देखना चाहते है और यही वजह है कि आज कलाकारों कि संख्या में स्वजन पक्षपात उभर कर आ रही है । आज कि सच्चाई ये है 80 फिसदी कलाकार के पूर्वज भी कलाकार रहे है उन लोगों का वातावरण(atmosphere) मानों देवताओं के श्रेणी हो चला है जिसमें निचले स्तर से उठा हुआ मानव अगर श्रेणी का हिस्सा बनते है तो अन्दर का देवता पूछता है तेरी हद क्या है ? ऐसा लगता है मानो इंडस्ट्री कोई खास ढांचा तैयार कर रखा है कि निचले क्रम के कलाकारों को इममें फिट आना है और ऐसा नही होने पर कैरियर से हाथ धोना पड़ता है या फिर जैसे सुशांत इतिहास हो गए। अंदर कि जानकारों का माने तो बॉलीवुड में भेदभाव चरम पर है ।

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More