Thejantarmantar
Latest Hindi news , discuss, debate ,dissent

- Advertisement -

सुशांत की मौत के बाद – सोनू निगम ने बोला बॉलीवुड की माफियागिरी पर हमला , बिना नाम लिए साधा सलमान खान पर निशाना

सोनू निगम ने कहा, "मुझे उम्मीद है कि लोग इस वीडियो को देखने के बाद गुस्सा नहीं होंगे। मैं स्पष्ट कह रहा हूँ कि गायक, संगीत निर्देशक, और गीतकार जिन्होंने इन चीजों को झेला हैं, वे सभी मेरी बातों से से सहमत होंगे। डायरेक्टर, प्रोड्यूसर भी ख़ुश नहीं हैं। उन्हें उनकी मर्ज़ी का म्यूज़िक बनाने नहीं दिया जा रहा।''

1,815

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Advertisement -

मुम्बई- सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के बाद पूरा बॉलीवुड सुशांत के फैंस की तपिश झेल रहा है । सोशल मीडिया पर सुशांत के फैंस बॉलीवुड माफिया और नपोटिज्म के खिलाफ जैसे एक युद्ध छेड़े हुए है । कंगना रनौत पहले ही बॉलीवुड में नेपोटिज्म और माफिया गिरी की पोल खोल चुकी है । अब  सिंगर सोनू निगम ने भी बॉलीवुड की माफियागिरी पर हमला बोला है। उन्होंने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो जारी करते हुए बॉलिवुड की म्यूजिक इंडस्ट्री में म्यूजिक माफिया के खेमेबाजी का खुलासा किया हैं। साथ ही प्रॉफेशनल सिंगर्स को परेशान किए जाने का भी आरोप लगाया है। इस वीडियो की शुरुआत उन्होंने सुशांत सिंह राजपूत के दुखद पर बोलते हुए कहा है।

- Advertisement -

View this post on Instagram

You might soon hear about Suicides in the Music Industry.

A post shared by Sonu Nigam (@sonunigamofficial) on

म्यूजिक कम्पनियों की मोनोपॉली पर बोला हमला

वीडियो की शुरुआत में ही सिंगर सोनू निगम ने इस बात को स्पष्ट किया कि वो अपनी इस वीडियो के जरिए म्यूजिक प्रोडक्शन कंपनियों से रिक्वेस्ट करना चाहते हैं। उन्होंने कहा, “क्योंकि आज सुशांत सिंह राजपूत मरा है। आप एक अभिनेता की मौत के बारे में सुन रहें है। कल को आप ये किसी गायक के बारे में ऐसा सुन सकते हैं, किसी संगीतकार के बारे में या किसी गीतकार के रूप में भी सुन सकते हैं क्योंकि एक्टिंग इंडस्ट्री की तुलना में म्यूजिक इंडस्ट्री में काफी बड़े माफिया हैं। मैं बहुत लकी हूँ कि कम उम्र में यहाँ आया था और इन सबके चंगुल से निकल गया लेकिन प्रोडक्शन कंपनियों के रुख, युवाओं और टैलेंटेड सिंगर्स की मुश्किलों को देखकर मुझे दुख होता हैं। निर्माता, निर्देशक, संगीतकार किसी कलाकार के साथ काम करना चाहेंगे लेकिन म्यूजिक कंपनी कहेगी ये हमारा आर्टिस्ट नहीं है।”

सोनू निगम रिक्वेस्ट करते है, “मैं समझ सकता हूँ कि आप लोग (म्यूजिक कंपनी) बहुत बड़े लोग हो और आपके पास फ़िल्म और रेडियो इंडस्ट्री का पूरा कंट्रोल हैं, लेकिन प्लीज ऐसा मत करिए।” म्यूजिक इंडस्ट्री पर केवल दो कंपनियों का कब्जा है। उनके हाथों में ये ताकत है कि इसे गाने में इसे लो और इसे मत लो। बिजनेस करना ठीक है, लेकिन इस तरह रूल करना ठीक नहीं है।

ऐसे माफियाओं पर आरोप लगाते हुए सोनू निगम कहते है, “कभी-कभी देखता हूँ मैं कि नए संगीतकार, नए गीतकार, नए गायक खून के आँसू रोते हैं। अगर उन्हें कुछ हो गया कल को, तो आपके ऊपर ही प्रश्नचिह्न उठेगा। लेकिन ऐसा मत कीजिए, दुआ-बद्दुआ बहुत बड़ी चीज़ होती है, उनको टॉर्चर करना बंद कर दीजिए।”

बिना नाम लिए सलमान खान पर बोला हमला

बिना किसी एक्टर का नाम लिए, सोनू निगम सलमान खान की तरफ इशारा करते हुए अपने बारे में कहते हैं कि उन्हें और अरिजीत सिंह को कई बार उनके खुद के गानों को गाने के लिए रोका गया हैं। सोनू ने पूछा, “ये क्या है? आप अपनी पावर का इस तरह से इस्तेमाल कैसे कर सकते हैं? मेरे कितने गाने मैंने गा रखे हैं जो डंप हो चुके हैं। ये बहुत शर्मिंदगी पैदा करता है। मैं किसी से काम नहीं माँगता। पर वो मुझे बुला कर मुझसे गाना गवा कर फिर उसे डंप कर देते हैं। क्या ये कोई मजाक चल रहा है।” उन्होंने आगे कहा कि मैं 1989 से म्ज़ूजिक इंडस्ट्री में हूँ। मेरे साथ ऐसा कर सकते हो तो छोटे बच्चों के साथ में क्या-क्या नहीं कर रहे होओगे आप लोग।

सिंगर को प्रताड़ित किया जाता है

सोनू निगम ने अपनी बात जारी रखते हुए कहा कि, “आप लोग एक ही गाने को 9-9 लोगों से गवाते हो। यह सही है?” सोनू निगम ने म्यूजिक प्रोडक्शन कंपनियों से आग्रह किया कि ये इंडस्ट्री में जो नए बच्चे हैं, आपकी सहायता चाहते हैं। इंसानियत के नाते थोड़ा सा दयालु बनिए।

उन्होंने दुखी होकर बोला कि, “एक गाने को 10 सिंगर से दस बार गाना गवाया जाता है, लेकिन उन सभी को बाद में डंप कर दिया जाता है। और फिर आप चाहते हो आपके लिए 11वां व्यक्ति गाना गाए। क्या इस तरह से गायकों, गीतकारों और संगीतकारों के साथ व्यवहार करना गलत नहीं है?”

उन्होंने आगे बताया कि किस तरह टैलेंटेड सिंगर अवसरों की तलाश में रह जाते हैं। अगर वें इनमें से किसी भी कंपनी के साथ काम नहीं करना चाहते हैं। इनके द्वारा गायकों को अपने जूते के नीचे रखा जाता हैं। सिंगर्स को हमेशा इन संघर्षों से जूझना पड़ता हैं।”

सोनू निगम ने जोर देते हुए कहा कि म्यूजिक इंडस्ट्री सिर्फ दो लोगो के हाथों में नहीं होनी चाहिए। अगर म्यूजिक कम्पनियाँ ही सब कुछ डिसाइड करती हैं तो हुनर की जगह बिल्कुल कम हो जाएगी।

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More