Thejantarmantar
Latest Hindi news , discuss, debate ,dissent

- Advertisement -

फारूख अब्दुल्ला बोले – मुझे हेमंत सोरेन का कॉल आया, मुझसे बोले आप कोलकत्ता पहुंचे, मैं भी 50 लाख रूपये लेकर आ रहा हूँ, जानिए पूरा मामला

492

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Advertisement -

नई दिल्ली – जम्मू-काश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने अपने साथ हुए एक घटना का जिक्र करते हुए कहा कि मुझे सोरेन की आवाज में किसी ने उनके पास फोन किया और कहा, ‘आप (फारूक) कोलकाता पहुंचें, मैं भी पहुंच रहा हूं। मैं आपके लिए 50 लाख रुपये लेकर आ रहा हूं।’ उन्होंने कहा कि इसके बाद मैंने इसकी पड़ताल की और उसके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई। बाद में पता चला कि उसने पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा को भी ऐसे ही फोन किया था।

फारूख अब्दुल्ला ने आगे कहा कि अगर पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनाव के मद्देनजर तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी उन्हें चुनाव प्रचार के लिए बुलाती हैं, तो वे जरूर जाएंगे। उन्होंने कहा कि आजकल चुनाव काम के मुद्दे पर नहीं लड़े जा रहे हैं बल्कि भगवान और अल्लाह के नाम पर वोट मांगे जा रहे हैं। लोगों को अपने काम पर वोट मांगना चाहिए। अब्दुल्ला ने कहा कि आजकल ये सूरत बन गई है कि जितना बदनाम किया जा सकता है, बदनाम करो।

अब्दुल्ला ने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि अभी तक केंद्र शासित प्रदेश राज्य बनते रहे थे। कोई राज्य केंद्र शासित प्रदेश नहीं बनता था। इन लोगों ने भारत के ‘क्राउन’ के दो टुकड़े कर दिए। कश्मीर को लेकर भारत-पाकिस्तान के रिश्ते पर बोलते हुए अब्दुल्ला ने अटल सरकार को याद किया। उन्होंने कहा कि वाजपेयी जी जब पाकिस्तान गए तो उन्होंने मुझे बुलाया और पूछा कि आपकी क्या राय है? तब मैंने उनसे कहा कि सीमा आसान करें ताकि रिश्ते बनते रहें। दोनों देशों के दिल में जो जख्म है वह आहिस्ता-आहिस्ता भरे।

- Advertisement -

अब्दुल्ला ने कहा कि इस पर वाजपेयी बोले कि यही बात उन्होंने नवाज शरीफ (तत्कालीन पाकिस्तानी प्रधानमंत्री) से कही। उन्होंने भी इस पर सहमति जताई। अब्दुल्ला ने इस दौरान अटल बिहारी वाजपेयी की जमकर तारीफ की। उनसे पूछा गया कि उन्होंने अटल सरकार को भी देखा और मोदी सरकार को भी देख रहे हैं। दोनों में क्या अंतर पाते हैं? इस पर उन्होंने कहा कि अटल देवता आदमी थे। आरएसएस से होते हुए भी वह समझते थे कि यह देश सबका है। कोई किसी भी प्रांत, रंग और धर्म का है, उसको मजबूत करेंगे, तो देश मजबूत होगा। ऐसे थे अटल बिहारी वाजपेयी।

इसे भी पढ़े

- Advertisement -

हाईकोर्ट से योगी सरकार को झटका, 2015 को आधार मानकर पंचायत चुनावों में आरक्षण लागू करने का आदेश

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More