Thejantarmantar
Latest Hindi news , discuss, debate ,dissent

- Advertisement -

देश में कोरोना बेकाबू, 16 राज्यों की हालत खराब, भोपाल में सम्पूर्ण लॉकडाउन, महाराष्ट्र में जल्द फैसला

130

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Advertisement -

नई दिल्ली- देश में कोरोना की रफ्तार बेकाबू है। भारत एक्टिव केसों की संख्या में ब्राजील को पीछे छोड़कर दूसरे नम्बर पर आ गया है। महाराष्ट्र, दिल्ली और उत्तर प्रदेश, पंजाब समेत देश के 16 राज्यों में संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। हाल यह है कि दुनिया का हर छठा नया संक्रमित भारत में मिल रहा है। वहीं मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में कोरोना के मामले बढ़ता देख पूर्ण लॉकडाउन लगाने की घोषणा की गई है। भोपाल में 19 अप्रैल सुबह 6 बजे तक संपूर्ण लॉकडाउन लगाया जाएगा।

हालात इतने बदतर हैं कि अमेरिका और ब्राजील दोनों देशों से ज्यादा मरीज अब अकेले भारत में मिल रहे हैं। अगर हम बीते 24 घंटों की बात करें तो भारत में 1,68,912 नए मामले मिले हैं, जबकि अमेरिका में इस दौरान करीब 48 हजार और ब्राजील में लगभग 38 हजार नए मरीज पाए गए थे।

- Advertisement -

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक महाराष्ट्र, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, मध्य प्रदेश, गुजरात, हरियाणा, राजस्थान, पंजाब, तेलंगाना, उत्तराखंड, आंध्र प्रदेश, और बंगाल में संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। इन राज्यों में बढ़ते मामलों के चलते कुल संक्रमितों की संख्या 1.35 करोड़ से अधिक हो गई है। ब्राजील में कुल संक्रमित 1.34 करोड़ हैं और अमेरिका में 3.19 करोड़। इस दौरान कोरोना संक्रमण की वजह से 904 और लोगों की मौत भी हुई है। 18 अक्टूबर, 2020 के बाद से एक दिन में महामारी के चलते होने वाली मौतों की यह सबसे बड़ी संख्या है। इसके साथ ही मृतकों का आंकड़ा 1,70,179 पर पहुंच गया है।

मध्यप्रदेश सरकार ने राजधानी भोपाल में 19 अप्रैल की सुबह 6 बजे तक के लिए कोरोना कर्फ्यू लगा दिया है। शहर में पिछले 24 घंटे में रेकॉर्ड 824 मामले मिलने के बाद यह फैसला किया गया है। कोरोना कर्फ्यू के दौरान किराना दुकानों से होम डिलीवरी हो सकेगी और सब्जी तथा दूध की दुकानें खुली रहेंगी। बैंक और पेट्रोल पंप खुले रहेंगे। रेहड़ी-ठेले से भी सब्जी-फलों की बिक्री जारी रहेगी। बता दें कि इससे पहले जिलों की क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के साथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की बैठक के बाद 12 शहरों में लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला किया गया था। इनमें इंदौर, जबलपुर, उज्जैन और विदिशा भी शामिल हैं। फैसले में कहा गया है कि कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण के लिए बड़वानी, राजगढ़, विदिशा जिलों के शहरी और ग्रामीण इलाकों में 19 अप्रैल सुबह 6 बजे तक लाॅकडाउन जारी रहेगा। इंदौर, राऊ, महू, शाजापुर और उज्जैन जिले के सभी शहरों में भी 19 अप्रैल की सुबह 6 बजे तक लॉकडाउन लगाए रखने का निर्णय लिया गया है। सरकार ने जबलपुर शहर, बालाघाट, नरसिंहपुर और सिवनी जिलों में 12 अप्रैल की रात से 22 अप्रैल की सुबह 6 बजे तक लॉकडाउन का फैसला किया है। प्रदेश के कई शहरों में 7 से 10 दिनों का लॉकडाउन पहले से ही लागू है।

महाराष्ट्र सरकार जल्द ले सकती है लॉकडाउन पर फैसला

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस का संक्रमण बेकाबू हो गया है। ऐसे में महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार राज्य में कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए लॉकडाउन लगाने जा रही है। हालांकि कब से लॉकडाउन लगेगा? इसका जिक्र सरकार की ओर से नहीं किया गया है। कोविड-19 के मामलों में तेजी से हो रही बढ़ोत्तरी के चलते महाराष्ट्र सरकार ने इस महीने राज्य बोर्ड की ओर से आयोजित होने वाली 10 वीं और 12 वीं की परीक्षाएं टालने का सोमवार को फैसला किया। राज्य में 12 वीं बोर्ड की परीक्षा 23 अप्रैल से और 10 वीं कक्षा की परीक्षा 30 अप्रैल से शुरू होने वाली थी। सरकार के इस फैसले से यह साफ हो गया है कि सरकार एक-दो दिन में लॉकडाउन लगाने की घोषणा कर सकती है।

डरा रही है यूपी कोरोना की बढ़ती रफ्तार

उत्तर प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर ने डरा रही है । लखनऊ के बाद यूपी के 5 शहरों में एक्टिव कोरोना मरीजों की संख्या आधे से ज्यादा है। लखनऊ, प्रयागराज, वाराणसी, कानपुर और गोरखपुर में 50 फीसद से ज्यादा एक्टिव केस हैं। सोमवार को उत्तर प्रदेश में 13685 नए के सामने आए वहीं 72 लोगों की मौत हुई, जिसमें राजधानी लखनऊ के सबसे ज्यादा 3892 संक्रमित मरीज शामिल हैं। उत्तर प्रदेश के एक्टिव केसों की बात करें तो कुल 81 हजार 576 एक्टिव केस हैं। जिसमें से करीब 58 फीसद मरीज सिर्फ लखनऊ (23090 मरीज), प्रयागराज(9273 मरीज), वाराणसी(8021 मरीज), कानपुर (4360 मरीज)और गोरखपुर (2416 मरीज) से हैं।

यह भी पढ़ें-

क्या आपको भी हुआ था कोरोना और पता नहीं चल पाया? इन लक्षणों से जाने कोरोना होने के संकेत

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More