Thejantarmantar
Latest Hindi news , discuss, debate ,dissent

- Advertisement -

अदाणी मामले पर फिर हंगामे के आसार, कांग्रेस आज देशभर में करेगी प्रदर्शन

0 122

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

- Advertisement -

बजट पेश होने के बाद से अब तक संसद में एक भी दिन चर्चा नहीं हो पाई है। गौतम अदाणी मामले को लेकर विपक्षी दल लगातार संसद के दोनों सदनों में हंगामा कर रहे हैं और इस मामले पर संसदीय कमेटी बनाने की मांग कर रहे हैं, उधर सत्ता पक्ष राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा की मांग कर रहा है। आज संसद में होने वाली कार्यवाही के दौरान भी हंगामे के आसार जताए जा रहे हैं। उधर, कांग्रेस ने आज देश भर में एलआईसी कार्यालयों के बाहर विरोध प्रदर्शन का एलान किया है।

विपक्षी दलों कांग्रेस, डीएमके,एनसीपी, बीआरएस, जदयू, सपा, सीपीएम, सीपीआई, केरल कांग्रेस (जोस मणि), जेएमएम, राजद, आरएसपी, आप, आईयूएमएल, राजद और शिवसेना ने संसद सत्र से पहले अहम बैठक की। मीटिंग LoP मल्लिकार्जुन खरगे के चैंबर में हुई। इस दौरान अदाणी-हिंडनबर्ग और अन्य मुद्दों पर रणनीति बनाने पर चर्चा हुई। सूत्रों की मानें तो विपक्षी दलों ने फैसला किया है कि वे संसद के दोनों सदनों में स्थगन प्रस्ताव देंगे। अदाणी मामले पर चर्चा की मांग की जाएगी। इसके अलावा कोई और काम नहीं होगा।

अदाणी समूह-हिंडनबर्ग मामले पर चर्चा के लिए राज्यसभा में नियम 267 के तहत सीपीआई (एम) सांसद एलामारम करीम ने सस्पेंशन ऑफ बिजनेस नोटिस दिया। नोटिस में लिखा है कि हिंडनबर्ग रिसर्च द्वारा अदाणी समूह के खिलाफ लगाए गए आरोपों की उच्च स्तरीय जांच आवश्यक है। इसकी सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिन-प्रतिदिन के आधार पर निगरानी की जानी चाहिए।

अदानी मुद्दे पर संसद के लिए विपक्ष की रणनीति पर लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि अब हमारी बैठक होगी। पूरा विपक्ष एक साथ आएगा, चर्चा होगी और फैसला होगा। यह केवल कांग्रेस का मुद्दा नहीं है, बल्कि भारत के आम लोगों का मुद्दा है।

विपक्ष के नेता राज्यसभा और कांग्रेस प्रमुख मल्लिकार्जुन खरगे ने कहा कि हम संसद में अदाणी और हिंडनबर्ग का मुद्दा उठाएंगे। सरकार इतने बड़े मुद्दे पर चुप है, खासकर पीएम मोदी। सरकार को विपक्ष की बात को सुनना चाहिए और जवाब देना चाहिए।

- Advertisement -

बीआरएस के सांसद के केशव राव ने अदाणी समूह-हिंडनबर्ग रिसर्च मामले पर चर्चा के लिए नियम 267 के तहत राज्यसभा में सस्पेंशन ऑफ बिजनेस नोटिस दिया।

- Advertisement -

अदाणी समूह-हिंडनबर्ग रिसर्च मुद्दे पर चर्चा के लिए कांग्रेस सांसद मणिकम टैगोर ने लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव नोटिस दिया। उन्होंने इस मामले की जांच के लिए एक संयुक्त संसदीय समिति गठित करने की भी मांग की है। साथ ही उन्होंने सदन से अनुरोध किया है कि पीएम को सार्वजनिक धन के वास्तविक नुकसान का खुलासा करने का निर्देश दिया जाए।

कांग्रेस सांसद प्रमोद तिवारी ने राज्यसभा में नियम 267 के तहत एलआईसी, एसबीआई द्वारा निवेश में धोखाधड़ी के मुद्दे पर चर्चा करने के लिए व्यावसायिक नोटिस का निलंबन दिया। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक और वित्तीय संस्थान बाजार मूल्य खो रहे हैं, करोड़ों भारतीयों की मेहनत की बचत को खतरे में डाल रहे हैं।

कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने चीन के साथ सीमा की स्थिति पर चर्चा के लिए लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव का नोटिस दिया।

कांग्रेस देश भर में करेगी प्रदर्शन
कांग्रेस आज एलआईसी कार्यालयों के बाहर देशभर में प्रदर्शन करेगी। उधर, एलआईसी की चार बड़ी यूनियनों ने कांग्रेस अध्यक्ष खरगे से मिलकर इस विरोध प्रदर्शन को रोकने की मांग की है।

सीपीआई सांसद ने अदाणी मामले में की चर्चा की मांग
सीपीआई सांसद बिनॉय विश्वम ने राज्यसभा में नियम 267 के तहत सस्पेंसन ऑफ बिजनेस नोटिस दिया है। उन्होंने अदाणी समूह की कंपनियों के विषय में चर्चा की मांग की है।

अदाणी मामले पर फिर हंगामे के आसार, कांग्रेस आज देशभर में करेगी प्रदर्शन
बजट पेश होने के बाद से अब तक संसद में एक भी दिन चर्चा नहीं हो पाई है। गौतम अदाणी मामले को लेकर विपक्षी दल लगातार संसद के दोनों सदनों में हंगामा कर रहे हैं और इस मामले पर संसदीय कमेटी बनाने की मांग कर रहे हैं, उधर सत्ता पक्ष राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा की मांग कर रहा है। आज संसद में होने वाली कार्यवाही के दौरान भी हंगामे के आसार जताए जा रहे हैं। उधर, कांग्रेस ने आज देश भर में एलआईसी कार्यालयों के बाहर विरोध प्रदर्शन का एलान किया है।

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More